in

नहीं हो पाएगा अब चोरी का मोबाइल ट्रेस, ये सॉफ्टवेर बदल देता पूरा सिस्टम

Loading...

आज के जमाने में स्मार्टफोन हर किसी आदमी की जरुरत बन गया है। वहीं आजकल महंगे स्मार्टफोन खरीदने का ट्रेड़ चल रहा है। यहीं कारण है कि लोग महंगे से महंगे स्मार्टफोन खरीदते है। लेकिन जब किसी भी इंसान का महंगा स्मार्टफोन चोरी होता है तो उसको उस स्मार्टफोन का सबसे ज्यादा दुख होता है। उसके बाद आप पुलिस में जाकर आपने स्मार्टफोन की शिकायत दर्ज करवाते है। जिसके बाद पुलिस आपने स्मार्टफोन को उसके IMEI नबंर के द्वारा उसे ट्रेस कर चोर तक पहुंच जाया करती थी। लेकिन क्या आपको अब पता है कि ऐसा सॉफ्टवेर आ गया है जिसमें चोरी हुए स्मार्टफोन तक IMEI नबंर के द्वारा नहीं पहुंच पाएगी। सही पढ़ा दोस्तों चीन ने अभी कुछ समय पहले एक सॉफ्टवेर बनाया है जिसने सब कुछ बदल कर रख दिया है। अब चोरों को फोन ट्रेस से बचाने के लिए ये चीन का सॉफ्टवेयर ही काफी हैं। आपको बता दें कि इस सॉफ्टवेर के इस्तेमाल से कोई भी फोन पुराने IMEI नबंर मिटा कर उसकी जगह IMEI नबंर को डाल सकता है।

इससे पुलिस आपके पुराने IMEI नबंर तक कभी पहुंच ही नहीं पाएगी और चोरो को कभी नहीं पकड़ा जाएगा। ऐसे ही एक चीन के सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर रहे चोर को पुलिस ने पकड़ा है। आपको बता दें कि ये चोर मूल रुप से जबलपुर का रहने वाला है। वही चोर ने पुलिस को बताया कि वो कैसे किसी फोन को चुराने के बाद उसका पूरा सिस्टम बदल देता था और फिर उस फोन को बेच देता था। वहीं ऐसे सॉफ्टवेयर को जानकार पुलिस हैरान है। इस सॉफ्टवेयर का तोड़ निकालने के लिए पुलिस साइबर विंग मल्टीनेशनल सॉफ्टवेयर डेवलपर्स की मदद ले रही है।

Loading...

ऐसे बदला जाता है पुराना नंबर

आजकल चोर किसी भी फोन को चुराने के बाद उस फोन का आई एम ई आई नंबर बदलने के लिए चीन से एक सॉफ्टवेयर को खरीदते है और अपनी दुकान और या फिर कंप्यूटर या लैपटॉप पर उस सॉफ्टवेयर को इंस्टाल करते है। इसके बाद वे पुराने और खराब फोन के आईएमईआई नंबर को चोरी के फोन से रिप्लेस कर देते है। ऐसे में वे चोरी किए गए फोन के नबंर को बदल देते है और इसमें नंबर डाल देते है। वहीं ऐसे कई लोग है जो आईएमईआई नबंर को बदलने के लिए दुकानदारों को कोई भी कीमत देने के लिए तैयार रहते है। वहीं कोई भी चोर या फिर दुकानदार इन नबंर को बदलने के लिए हजार रुपए से लेकर दस हजार रुपए तक रखते है। आपको जानकर हैरानी होगी की जब कभी भी आपके फोन का सॉफ्टवेयर उड़ जाता है तो किसी दुकानदार के पास अपना फोन ले जाते है। वहीं वो दुकानदार आपके फोन का सारा डेटा अपने कंप्यूटर पर सेव कर लेता है और इस ही डेटा का इस्तेमाल वे अपने चोरी के फोन के आईएमईआई नंबर को बदलने के लिए करता है।

किसी भी फोन का आईएमईआई नंबर बदलने के लिए आपको नए आईएमईआई नंबर के पहले दो शुरुआती नंबर को सेम रखना पड़ता है। ऐसा इसलिए करना पड़ता है क्योंकि दो नंबर में समानता नहीं होगी तो वे आपस में रिप्लेस नहीं होगे। वहीं चोर ने बताया कि मोबाइल किसी भी कंपनी का क्यों ना हो उसका पूरा सिस्टम बदल दिया जाता है।

Loading...

What do you think?

0 points
Upvote Downvote

Total votes: 0

Upvotes: 0

Upvotes percentage: 0.000000%

Downvotes: 0

Downvotes percentage: 0.000000%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 वर्षीय लड़की के संग शादी कर भागना चाहता था बुड्डा, ये थी वजह

अंडे से जुड़ी इस पहेली का जवाब देकर मिल सकती है Apple मे 76 लाख की नौकरी