ISRO ने एक साथ 31 सैटेलाइट भेज रचा इतिहास,साथ ही अपना 100वा सैटेलाइट भी भेजा।

0
13
Source
Loading...

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) आज खुद का बनाया 100वा उपग्रह अंतरिक्ष मे भेजने के साथ साथ अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में नई ऊंचाइयों पर पहुंच चुका है। यह प्रक्षेपण इस साल का पहला प्रक्षेपण है। ISRO ने पिछले साल फ़रवरी में भी एक साथ 104 सैटेलाइट ऑर्बिट में भेजकर विश्व रिकॉर्ड बनाया था,लेकिन उस लॉन्चिंग मे भी ज्यादातर विदेशी थे। इस साल की पहली लॉन्चिंग में ही इसरो ने कुल 31 की लॉन्चिंग की है जिसमे से 28 विदेशी है।

Source

सुबह हुई लॉन्चिंग :-

Source

भारत और 6 अन्य देशो द्वारा ये सैटेलाइट्स श्रीहरिकोटा के सतीश धवन स्पेस सेंटर से शुक्रवार सुबह 9:28 बजे पीएसएलवी से छोड़े गए। खबर के मुताबिक लॉन्चिंग में किसी वजह से 1 मिनट की देरी भी हुई लेकिन यह सफल साबित हुई।

भारत ने मारा सैटेलाइट का शतक :-

इसरो के डॉयरेक्टर एम अन्नादुरै ने कहा कि भारत खुद के 3 और विदेशी 28 यानी कुल 31 सैटेलाइट लॉन्च कर रहा है और जैसे ही मिशन का आखिरी सैटेलाइट पीएसएलवी-सी20 से अलग होकर अपने ऑर्बिट में जाएगा यह हमारा 100वां सैटेलाइट होगा। इसके साथ ही हमारा पहला शतक पूरा हो जाएगा। बड़े गर्व की बात है कि भारत अब उन देशों में शुमार किया जाएगा जिनके अंतरिक्ष मे 100 या उससे ज़्यादा सैटेलाइट मौजूद है।

Loading...

कुछ इस प्रकार है सैटेलाइटस:-

Source

भारत अब अपने 100 उपग्रहों की लॉन्चिंग तो कर चुका है लेकिन उसमें से एक 100 किलोग्राम का माइक्रो सैटेलाइट और एक पांच किलोग्राम का नैनो सैटेलाइट है। बाकी के 28 विदेशी सैटेलाइट जो कनाडा, फिनलैंड, फ्रांस, दक्षिण कोरिया, ब्रिटेन और अमेरिका के हैं,कुल मिला कर सभी का वजन 1323 किलोग्राम से भी ज़्यादा है जिसमे अकेले कार्टोसेट-2 का वजन 710 किलो का है, बाकी 30 सैटेलाइट का वजन 613 किलोग्राम है। जो अपने आप मे ही एक उपाधि है।

भारत में सैटेलाइट की कमर्शियल लॉन्चिंग है दुनिया में सबसे सस्ती:-

एक वेबसाइट की माने तो सैटेलाइट लॉन्चिंग में भारत सबसे सस्ता देश है भारत मे अमेरिका, चीन और यूरोप की तुलना में करीब 66 गुना सस्ती लॉचिंग होती है इतना ही नही भारत को सैटेलाइट लॉन्चिंग रूस से भी चार गुना सस्ती पड़ती है।

Leave your vote

0 points
Upvote Downvote

Total votes: 0

Upvotes: 0

Upvotes percentage: 0.000000%

Downvotes: 0

Downvotes percentage: 0.000000%

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here